CLAT 2017- कैसा था एग्जाम, जानिए एडमिशन के लिए आगे क्या करना होगा

0
195

देश की विभिन्न लॉ यूनिवर्सिटीज में एलएलबी एवं एलएलएम के ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कॉर्सेस में दाखिले के लिए कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट 14 मई, रविवार को देश के विभिन्न 138 सेन्टर पर  आयोजित किया गया। इस बार यह टेस्ट पटना चाणक्‍य नेशनल लॉ युनिवर्सिटी द्वारा आयोजित किया गया था। शुरूआती आंकङों के अनुसार इस बार क्लेट एग्जाम में लगभग 50,000 विद्यार्थियों ने देश की 18 टॉप लॉ यूनिवर्सिटीज एवं अन्य लॉ कॉलेजों में ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कॉर्सेस में दाखिले के लिए ऑनलाइन एग्जाम देकर अपना भाग्य आजमाया। परीक्षा सभी सेन्टर पर शांतिपूर्ण ढ़ंग से संपन्न हुई। आइए जानते है कैसा रहा एग्जाम एवं किन टॉप लॉ यूनिवर्सिटीज में आप ले सकते है एडमिशन-

CLAT 2017 में क्या रहा खास-

कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट 2017 में इस बार बिहार एवं जम्मू-कशमीर के विद्यार्थियों का उपस्थिति प्रतिशत बहुत ही शानदार रहा। जम्मू-कशमीर के विकट हालातों में भी वहाँ के उम्मीदवारों ने 90.38% प्रतिशत उपस्थिति देकर एक बहुत ही काबिले-तारीफ संदेश दिया। विभागीय आंकङो के अनुसार परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों का रूझान बढ़ा है। विद्यार्थियों का चयन मेरिट एवं आरक्षण की सीटों के आधार पर किया जाएगा।

कैसा था पेपर?

कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट में 200 प्रश्न ऑनलाइन माधय्म से पूछे गए। प्रश्न पत्र अंग्रेजी भाषा मे पूछा गया, तथा विद्यार्थियों के मुताबिक पेपर अच्छा आया था, कुछ प्रश्न थोङे कठिन जरूर थे, पर ज्यादातर प्रश्न सीधे पूछे गए थे। विशेषज्ञों के अनुसार जनरल स्ट्डीज एवं लीगल एप्टीट्यूड के प्रश्न थोङे कठिन थे। इसके अलावा सारे पेपर के प्रशन खंड आसान थे। जिन विद्यार्थियों के कॉनसेप्ट मजबूत थे, उन्हें पेपर करने में काफी मदद मिली। 

अब आगे क्या?

14 मई को क्‍लैट का एग्जाम हो जाने के बाद अब विभाग 16 मई को पेपर की प्रोविजनल आन्सर-की जारी करेगा, तथा पेपर की ऑफिशियल एवं फाइनल आन्सर-की 25 मई को जारी की जाएगी। विद्यार्थियों को पेपर की जाँच में गलती सुधार के लिए पर्याप्त समय दिया जाएगा।

क्‍लैट एग्जाम का रिजल्ट ऑल इंडिया रैंक के अनुसार 29 मई को जारी किया जाएगा।

कट ऑफ एवं कांउसलिंग-

क्‍लैट एग्जाम का रिजल्ट घोषित होने के बाद विभाग मेरिट लिस्ट जारी करेगा। उसी मेरिट लिस्ट के आधार पर कट-ऑफ निकाली जाएगी। विद्यार्थी कट-ऑफ का आंकङा पार करेंगे वे ही कांउसलिंग प्रक्रिया में बैठ पाएंगे। कांउसलिंग प्रक्रिया में कॉलेज एवं सीट का निर्धारण किया जाता है। विभाग द्वारा कांउसलिंग 5 जून से 6 जुलाई तक की जाएगी।

सीट आवंटन एवं एडमिशन-

केन्द्र के कांउसलिंग सिस्टम के अनुसार कांउसलिंग प्रक्रिया के खत्म होने के बाद फाइनल लिस्ट पब्लिश की जाएगा। विद्यार्थियों को अपनी प्राप्त कॉलेज की आवंटित सीट के लिए फीस एवं जरूरी कागजात जमा करवाने होंगे।

अधिकरिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें

 

 

 

 

 

Click Here to Share This on Whatsapp


Whatsapp Twitter Facebook Google+

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY