हम सभी जानते हैं कि जघन्य अपराधों के दोषी अपराधियों को फांसी दी जाती है। लेकिन क्या आपने कभी किसी मरे हुए अपराधी को फांसी की सजा सुनाई है। जी हां, आपने सही पढ़ा क्योंकि ऐसा हकीकत में हुआ है। ईरान में एक महिला की मौत के बाद उसके शव को फांसी पर लटका दिया गया।

ईरान में, ज़हरा इस्माइली नामक एक महिला को फांसी दी जानी थी। उस पर अपने पति की हत्या का आरोप लगाया गया था। सजा पाने के लिए लाइन में खड़ी ज़हरा अचानक बेहोश हो गई और नीचे गिर गई, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। महिला के वकील ने कहा कि इस तथ्य के बावजूद कि सजा सुनाए जाने से पहले ही महिला की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी, उसे फांसी दे दी गई। महिला के वकील ओमिद मोरदी ने पूरी घटना को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर साझा किया।

वकील ने दावा किया कि प्रशासन किसी भी तरह से महिला को फांसी देना चाहता था ताकि उसकी सास अपने बेटे की मौत का बदला ले सके। उन्होंने कहा कि पीड़ित की मां को अपने पैरों से मृत महिला की कुर्सी को नीचे गिराने की अनुमति दी गई ताकि वह फांसी पर लटक जाए। महिला के वकील ने कहा कि महिला की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी लेकिन उसके बाद उसे फांसी दे दी गई थी। तेहरान के बाहर राजईशहर जेल में ज़हरा की मृत्यु हो गई। यह जेल अपनी क्रूरता के लिए कुख्यात है। ’ईरान में सख्त शरिया कानून के कारण ऐसा किया गया था।

Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY