पति सात महीने से बाहर था और महिला गर्भवती हो गई

0
16

जयपुर,कहते है कि दुनिया में सबसे पवित्र बंधन पति पत्नी का माना जाता है। शादी के बाद दो शख्स जिंदगी भर के लिए एक दूसरे का साथ निभाते है। एक दूसरे का सहारा बनने की कसमे खाते है। लेकिन आजकल के बदलते सामाजिक परिवेश से पति- पत्नी का भी ये रिश्ता अछूता नहीं रहा। समाज की बढ़ती कुरीतियों का शिकार हो रहा है शादी जैसा पवित्र रिश्ता भी। बिहार के भागलपुर में एक अजीब घटना घटी है। जगदीश बाढ़ थाने में एक महिला के गर्भवती होने की शिकायत से हड़कंप मच गया। घटना को लेकर अब तक गर्भवती महिला का नंदन डीआईजी के पास पहुंच चुका है। इसलिए जैसे ही यह घटना पूरे बिहार में प्रकाश में आ रही है, विस्फोट वायरल हो रहा है। गर्भवती महिला की शादी पांच साल पहले हुई थी। जिसके पास डेढ़ साल की बच्ची भी है। महिला के नंदन के मुताबिक, उसकी भाभी तीन महीने की गर्भवती है। यही नहीं जब उसका भाई यहां है। वह सात महीने से कलकत्ता में हैं। तो उसका भविष्य गर्भवती कैसे हुआ? बस इसी वजह से पुलिस कौन है? इस मामले से निपटा जा रहा है। इससे ननंद नाराज हो गए। डीआईजी विकास के बिंदु पर पहुंचे थे और डीएनए टेस्ट की मांग की थी। पुलिस ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए ननंद को तत्काल हिरासत में ले लिया। जांच में पाया गया कि बच्चे के तीन महीने पूरे होने में 12 दिन कम थे। नानंद के बाद बड़ी विपत्ति आई कि स्त्री का पति भी बाद में फट गया। लेकिन महिला इस बारे में चुप थी। बाद में, जब महिला बोली तो परिवार के पैर जमीन से फिसल गए क्योंकि महिला ने कहा कि अगर उसे घर में रहना है अन्यथा वह गलत मामले में भाग जाएगी।

Use your ← → (arrow) keys to browse

Click Here to Share This on Whatsapp

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY