सामजिक दूरी का पालन करते हुए निकली बारात, बिना पंडित के हुआ विवाह

0
10

जयपुर,कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न हुई गंभीर स्थिति को देखते हुए बुधवार से पूरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन  कर दिया गया है। मंगलवार रात 8 बजे पीएम मोदी ने देश को संबोधित करके इस लॉकडाउक की घोषणा की। इस लॉकडाउन के तहत सिर्फ आवश्यक वस्तुएओं की सप्लाई जारी रहेगी। इसके अलावा किसी भी नागरिक को घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। लॉकडाउन के बाद इसे लेकर तरह-तरह के सवाल सामने आ रहे हैं। आज हम आपको एक अलग ही तरह का मामला बताने जा रहे है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ये मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है। हैरान कर देने वाली बात है कि रहने वाली भावना और शहर के ही रहने वाले चंदन ने लॉकडाउन के बीच एक-दूसरे का हाथ थामा।इस मामले में बताया जा रहा है कि लॉकडाउन से पहले ही दोनो की शादी का महुर्त निकल चुका था। इतना ही नहीं दोनो घरो में रस्में होनी शुरू हो गई थी। सिर्फ बारात का दिन आने का ही इंतजार हो रहा था। लेकिन बीच में ही भारत में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन की स्थित्ति हो गई। ऐसे में पंरपरा और मान्यताओं के चलते दोनों परिवार इस समारोह को रोक नहीं सकते थे। ऐसे में तय किया कि यह शादी तो होगी लेकिन सब कुछ चंद लोगों के बीच सरकारी नियमों का पालन करते हुए करना है। दूल्हे चंदन की बारात पांच लोगों के साथ निकली वो भी सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए इस बारात में न बैंड-बाजा था, न नाचते गाते-बाराती। जब बारात दुल्हन घर के पहुंची तो मेहमान के नाम पर सिर्फ दुल्हन के घरवाले मौजूद थे।

Use your ← → (arrow) keys to browse

Click Here to Share This on Whatsapp

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY